Welcome to JLSINDIA.ORG

Aaj ki baat

सांप्रदायिक फ़ासीवाद का उभार और लेखकीय प्रतिरोध का समय

निराला की एक कविता है : ‘राजे ने अपनी रखवाली की।‘ यह साफ़तौर पर वर्ग-विभाजित समाज में शोषकवर्ग के वर्चस्व से जुड़ी असलियत खोलती है…

और…

Press Vigyapti

प्रो. एम एम कालबुर्गी की हत्या

नयी दिल्ली : 30 अगस्त : बुद्धिवादी वाम-विचारक और साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित कन्नड़ विद्वान् प्रो. एम एम कालबुर्गी की हत्या नरेन्द्र दाभोलकर और कामरेड गोविन्द पानसारे की हत्या की ही अगली कड़ी है. यह बात

                                    और…

Ayojan

Banda workshop

जनवादी लेखक संघ केंद्र 2-3-4 अक्टूबर, 2015 को बाँदा (उत्तर प्रदेश) में अम्बेडकरवाद और मार्क्सवाद : पारस्परिकता के धरातल विषय पर कार्यशाला आयोजित करने जा रहा है…

और…

Patrikayen

और…

Pustak Samiksha

लेडीज़ क्लब : एक समस्या उपन्यास

जब मैं दिल्ली विश्वविद्यालय से अंग्रेज़ी साहित्य में एम. ए. कर रहा था तो पहली बार ‘समस्या नाटक’ जैसी नयी श्रेणी से परिचय हुआ।

और…

Jales Khabar
नागौर, राजस्थान में दलित दमन