दसवां राष्ट्रीय सम्मेलन : जयपुर : ज़रूरी सूचनाएं

जैसा कि आपको पता है, इस साल के 23-24-25 सितंबर को जलेस का राष्ट्रीय सम्मेलन जयपुर में होने जा रहा है। 22 मई 2022 को हमने सम्मेलन की तैयारी के लिए प्राधिकृत कार्यकारी मंडल की बैठक की।    बैठक में … Continue reading

विश्वविद्यालय परिसरों में आलोचनात्मक विवेक पर हमला

नयी दिल्ली : 12 मई 2022 : विश्वविद्यालय परिसरों में आलोचनात्मक विवेक पर हमलों की बारंबारता जिस तरह बढ़ी है, वह बेहद चिंताजनक है। रामनवमी और हनुमान जयंती को सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के अवसर की तरह इस्तेमाल करने का … Continue reading

राष्ट्रीय सम्मलेन

जलेस के केंद्रीय परिषद के सदस्यों के नाम सर्कुलर जैसा कि आपको पता है, कतरास (धनबाद) में राहुल संकृत्यायन सृजन पर्व के मौक़े पर 14 अप्रैल 2022 को जनवादी लेखक संघ की केंद्रीय कार्यकारिणी और परिषद् की साझा बैठक हुई … Continue reading

विनोद कुमार शुक्ल और उनके प्रकाशक

  नयी दिल्ली : 13 मार्च 2022 : पिछले दिनों कवि और उपन्यासकार विनोद कुमार शुक्ल ने प्रकाशकों के साथ अपने अनुबंध और रॉयल्टी भुगतान को लेकर अपने ठगे जाने का जो दुख साझा किया, वह विचलित करनेवाला है। जनवादी … Continue reading

एजाज़ अहमद नहीं रहे

नयी दिल्ली : 10 मार्च 2022 : विश्वविख्यात मार्क्सवादी सिद्धांतकार एजाज़ अहमद के इंतकाल की सूचना से हम सभी स्तब्ध हैं। मार्क्सवादी सैद्धांतिकी, साहित्यिक-सांस्कृतिक अध्ययन और राजनीतिक विश्लेषण के क्षेत्र में वे पूरी दुनिया की सर्वोत्तम मनीषा का प्रतिनिधित्व करनेवाले … Continue reading

किसानों का ऐतिहासिक संघर्ष

नयी दिल्ली : 19 नवंबर 2021 : साल भर से जारी अभूतपूर्व किसान आंदोलन के दबाव में आज केंद्र सरकार को तीनों प्रतिगामी कृषि क़ानूनों को वापस लेने की घोषणा करनी पड़ी। यह किसानों की एक ऐतिहासिक जीत है। जनवादी … Continue reading

मन्नू भंडारी का देहावसान

नयी दिल्ली : 15 नवंबर 2021 : ‘आपका बंटी’, ‘महाभोज’, ‘यही सच है’, ‘त्रिशंकु’ जैसी कालजयी रचनाओं की प्रणेता, हिंदी की अप्रतिम कथाकार मन्नू भंडारी नहीं रहीं। 90 वर्षीय मन्नू जी का साहित्यिक समारोहों में आना-जाना काफ़ी समय से बंद … Continue reading

विश्वविद्यालयों की शैक्षिक स्वायत्ता में राजनीतिक दखलंदाज़ी

नयी दिल्ली : 10 नवंबर 021 : आरएसएस के विद्यार्थी विंग, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की मांग पर बीएचयू प्रशासन ने विश्वविद्यालय के उर्दू विभाग के साथ जो कार्रवाई की है, वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है और जनवादी लेखक संघ उसकी … Continue reading

भारत यायावर का आकस्मिक निधन

नयी दिल्ली 24 अक्टूबर 2021 : हिंदी के गंभीर शोधार्थी, आलोचक और कवि भारत यायावर का आकस्मिक निधन स्तब्ध कर देनेवाला है। 1954 में जन्मे श्री यायावर हज़ारीबाग़ में रहते थे। फणीश्वर नाथ रेणु और महावीर प्रसाद द्विवेदी के वे … Continue reading

स्मृतिशेष : मुकेश मानस

नयी दिल्ली 5 अक्टूबर 2021 : हिंदी दलित साहित्य के महत्त्वपूर्ण हस्ताक्षर, युवा लेखक मुकेश मानस का असमय निधन हिंदी साहित्य और जनवादी आंदोलन से जुड़े लोगों के लिए एक बड़ा आघात है। 15 अगस्त 1973 को बुलंदशहर में जन्मे … Continue reading